आस्ट्रेलियाई कप्तान टीम पेन ने महिला के साथ चैट में अश्लीलता की सारी हदें की पार, वायरल हुई चैट
 टीम पेन

ऑस्ट्रेलिया की टेस्ट टीम के कप्तान टिम पेन ने इस्तीफा दे दिया है। एक महिला को भेजी गई अश्लील तस्वीर और मैसेज्स वायरल होने के बाद उन्होंने ये कदम उठाया। इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच बहुप्रतीक्षित एशेज टेस्ट सीरीज भी होनी है, ऐसे में ऑस्ट्रेलिया के क्रिकेट फैंस के लिए ये चौंकाने वाला फैसला रहा। आरोप है कि उन्होंने ‘क्रिकेट तस्मानिया’ की एक महिला कर्मचारी को कई अश्लील मैसेज्स भेजे। साथ ही उन पर अश्लील तस्वीरें भेजने का भी आरोप है।

असल में ये 4 साल पुराना 2017 का मामला है और साढ़े 3 साल से ‘क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया’ इसकी जाँच कर रहा है। जब डेविड वार्नर और स्टीव स्मिथ जैसे दिग्गज खिलाड़ियों पर प्रतिबंध लगा था, तब टिम पेन को ऑस्ट्रेलिया की टेस्ट टीम का कप्तान बनाया गया था। बता दें कि टिम पेन शादीशुदा हैं और उनके दो बच्चे भी हैं। अब ऑस्ट्रेलियाई विकेटकीपर बल्लेबाज 2021-22 एशेज सीरीज में ऑस्ट्रेलिया की कप्तानी नहीं करेंगे। पूरी टीम इसकी तैयारी में लगी हुई थी।

टिम पेन ने 2010 में ही टेस्ट डेब्यू कर लिया था, लेकिन उन्होंने कई कारणों से ज्यादा मैच नहीं खेले और उनका करियर उतार-चढ़ाव भरा रहा। हालाँकि, 2017 में उन्होंने दमदार वापसी की और तब से वो टीम के साथ हैं। 23 नवंबर, 2017 को अपने टेस्ट कमबैक के दौरान ही उन्होंने ये अश्लील मैसेज भेजे थे, जिसमें उन्होंने लिखा था, “क्या तुम मेरे %#%# का स्वाद लेना चाहोगी? #uck Me, I am really hard.” इससे एक साल पहले ही बॉन पेन के साथ उनकी शादी हुई थी। मैसेज में कुछ इस प्रकार बातचीत हुई-

  • टिम पेन: मैं तुम्हारे जैसी अच्छी लड़की को पसंद करता हूँ (नाम के साथ)। लेकिन ये मुझे रोचक लग रहा है।

  • महिला: जब मैं अच्छी होती हूँ तो अच्छी होती हूँ। जब मैं बुरी होती हूँ तो काफी चतुर होती हूँ।

  • टिम पेन: ‘ब्रिलियंट बैड’ का मतलब?

इसके बाद एक अन्य मौके पर बातचीत के दौरान टिम पेन ने लिखा था, “जब मैं इतना हार्ड होता हूँ तो आराम नहीं कर सकता। मुझे तनाव मिटाने की ज़रूरत है। मुझे तुम अपने उन होठों से ख़त्म कर दो। मुझे अभी ख़त्म कर दो।” इसी दौरान उन्होंने अपने गुप्तांग की तस्वीर महिला को भेजी थी। उस दौरान महिला ने बताया था कि वो काम के लिए तैयार हो रही है और उसके लिए ये एक बड़ा दिन है। हलाकि, ‘क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया’ ने जाँच में पाया था कि टिम पेन ने किसी ‘कोडऑफ कंडक्ट’ का उल्लंघन नहीं किया था।

‘क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया’ के अध्यक्ष रिचर्ड फ़्रूडेंस्टेन ने कहा, “टिम पेन ने महसूस किया कि परिवार और ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट के हित में कप्तान के पद से इस्तीफा देना उनके लिए उचित रहेगा। हमने उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया है और अब हम ‘नेशनल सेलेक्शन पैनल’ के साथ मिल कर एक प्रक्रिया के तहत नया कप्तान चुनेंगे।” 2018 केपटाउन स्कैंडल के बाद कप्तान बने टिम पेन ने 35 टेस्ट मैच, 35 ODI मैच और 12 T20I मैच खेले हैं। 2011 में ‘पुणे वॉरियर्स’ की तरफ से उन्होंने IPL के दो मैचों में भी हिस्सा लिया है।

36 वर्षीय टिम पेन का कहना है कि उनके परिवार ने उन्हें इसके लिए माफ कर दिया है। बोर्ड का कहना है की वो बतौर खिलाड़ी चयन के लिए उपलब्ध रहेंगे और बोर्ड उनके निर्णय का सम्मान करता है। उन्हें एक ‘असाधारण नेतृत्वकर्ता’ बताते हुए बोर्ड ने कहा कि हम उन्हें उनकी सेवाओं के लिए धन्यवाद देते हैं। इसे ‘सेक्सटिंग स्कैंडल’ कहा जा रहा है। टिम पेन ने कहा कि इससे इस खेल पर जो असर पड़ा है, उसके लिए वो माफ़ी माँगते हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें एक अच्छा परिवार मिला है, जो हमेशा उनके साथ खड़ा रहता है।

Share this story