वास्तु शास्त्र के अनुसार कैसा हो घर का रंग? की बच्चों की याददाश्त हो तेज।
घर

वास्तु शास्त्र के अनुसार घर मे बच्चो के स्टडी रूम को पढ़ने लायक बनाने में रंगों का भी महत्वपूर्ण योगदान होता है।

घर एक ऐसी जगह है, जहां लोग अपनी जिंदगी का एक बड़ा हिस्सा बिताते हैं। कुछ खास रंग लोगों में खास इमोशन पैदा करते हैं, इसलिए घर में रंगों का संतुलन बनाना बहुत जरूरी है, ताकि आप एक ताजा और स्वस्थ जीवन जी सकें। वास्तु शास्त्र के अनुसार घर मे बच्चो के स्टडी रूम को पढ़ने लायक बनाने में रंगों का भी महत्वपूर्ण योगदान होता है, स्टडी रूम को हल्के रंगो से पेंट करने से रूम के अंडर उजाला भी मिलता है और बच्चों का पढ़ाई मे मन भी लगता है और उनकी याददाश्त भी तेज होती है। 

 घर मे स्टडी रूम वह जगह होती है जहां हम शांति, बिना किसी शोर-शराबे और दखल के आराम से अध्ययन कर सकते हैं और इन सब चीजों के लिए स्टडी रूम का वातावरण अच्छा और शांतमय होना बेहद जरूरी है।स्टडी रूम को पढ़ने लायक बनाने में रंगों का भी महत्वपूर्ण योगदान होता है। अध्ययन कक्ष के लिए हल्के रंगों का प्रयोग करना बेहतर होता है। अध्ययन कक्ष के लिए क्रीम कलर, हल्का जामुनी, हल्का हरा, आसमानी, पीला, बादामी या भूरा रंग का चयन करना चाहिए। क्योंकि, हल्का रंग वास्तु की दृष्टि से शुभ माना जाता है। खासकर पीला रंग बच्चों की अध्ययन क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है। 

दिशाओं के मुताबिक रखे अपने घर के रंग-

रंग दिशाओं और घर के मालिक की जन्मतिथि के मुताबिक तय किए जाने चाहिए। चूंकि हर दिशा का अपना एक खास रंग होता है, इसलिए हो सकता है, यह घर के मालिक से मेल न खाए। इसके लिए घर के मालिकों को वास्तु शास्त्र में लिखी बुनियादी गाइडलाइंस का पालन करना चाहिए।

दिशा रंग
नॉर्थ-ईस्ट हल्का नीला
पूर्व सफेद या हल्का नीला
दक्षिण-पूर्व यह दिशा आग से जुड़ी है। इसलिए संतरी, गुलाबी या सिल्वर रंग ऊर्जा को बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है
उत्तर हरा और पिस्ता ग्रीन
उत्तर-पश्चिम यह दिशा हवा से जुड़ी है। इसलिए सफेद, हल्का ग्रे और क्रीम रंग इसके लिए परफेक्ट है
पश्चिम यह जगह ‘वरुण’ (जल) की है, इसलिए नीला और सफेद सर्वश्रेष्ठ है
दक्षिण-पश्चिम आड़ू रंग, गीली मिट्टी का रंग, बिस्किट कलर और लाइट ब्राउन कलर
दक्षिण लाल और पीला

घर के मालिकों को काला, लाल और पिंक रंग चुनने से पहले अतिरिक्त सावधानी बरतनी चाहिए, क्योंकि ये रंग हर किसी को सूट नहीं करते

Share this story