×
Railway general ticket holders: खुशखबरी! Railway ने जनरल टिकट वालों को दी बड़ी सुविधा, अब इस ऐप से भी कटा सकेंगे टिकट
Railway general ticket holders: खुशखबरी !Railway ने जनरल टिकट वालों को दी बड़ी सुविधा, अब इस ऐप से भी कटा सकेंगे टिकट

यूटीएस मोबाइल ऐप (UTS Mobile App) ग्राहकों को टिकट बुकिंग (Ticket Booking) के अलावा और भी कई सर्विस देता है। इस ऐप की मदद से यात्री मंथली पास के साथ-साथ प्लेटफॉर्म टिकट (Platform Ticket) की बुकिंग कर सकते हैं।

 इस ऐप के जरिये ट्रांजैक्शन करना भी आसान है क्योंकि इंटरनेट बैंकिंग और यूपीआई की मदद से टिकट बुकिंग का पेमेंट किया जा सकता है।


भारतीय रेलवे ने जनरल डिब्बे या बिना आरक्षण वाले डिब्बे की टिकट बुकिंग में बड़ी राहत दी है। अब जनरल टिकट की बुकिंग रेलवे के यूटीएस ऐप पर भी कटा सकेंगे।

यात्री पहले इस ऐप से 5 किलोमीटर की दूरी तक की टिकट बुक कर सकते थे। लेकिन अब इसके दायरे को बढ़ाकर 20 किमी कर दिया गया है। यानी 20 किमी तक का सफर तय करने के लिए आप काउंटर के बजाय ऐप से बुकिंग कर सकते हैं।

इस नई सुविधा का लाभ ऐसे लोग उठा सकेंगे जो बिना आरक्षण वाली टिकट पर यात्रा करते हैं। कम दूरी की यात्रा करने वाले भी इस ऐप सर्विस का भरपूर फायदा उठा सकते हैं। ऐसे लोगों को रेलवे के भीड़भाड़ वाले काउंटर पर जाने की जरूरत नहीं होगी।

घर बैठे अपने मोबाइल पर ही जनरल टिकट ली जा सकेगी। इससे रेलवे को भी फायदा होगा क्योंकि काउंटर पर भीड़ प्रबंधन एक बड़ी जिम्मेदारी होती है।

यूटीएस मोबाइल ऐप ग्राहकों को टिकट बुकिंग के अलावा और भी कई सर्विस देता है। इस ऐप की मदद से यात्री मंथली पास के साथ साथ प्लेटफॉर्म टिकट की बुकिंग कर सकते हैं।

इस ऐप के जरिये ट्रांजैक्शन करना भी आसान है क्योंकि इंटरनेट बैंकिंग और यूपीआई की मदद से टिकट बुकिंग का पेमेंट किया जा सकता है।

आइए जान लेते हैं कि यूटीएस ऐप से टिकट बुकिंग कैसे कर सकते हैं। इसके लिए मोबाइल पर यूटीएस ऐप डाउनलोड करना होगा। फिर बुकिंग टिकट मेनू में जाकर नॉर्मल बुकिंग को सेलेक्ट करना होगा।

 आपको पेपर या पेपरलेस टिकट चाहिए, इसके लिए भी विकल्प को सेलेक्ट करना होगा। इसके बाद ऑनलाइन पेमेंट का ऑप्शन दिखेगा। इंटरनेट बैंकिंग या यूपीआई से पेमेंट करने के बाद टिकट ऐप पर दिख जाएगी।

यूटीएस अनारक्षित ट्रेन टिकट बुक करने के लिए भारतीय रेलवे का आधिकारिक एंड्रॉइड मोबाइल टिकटिंग ऐप है। यह सेवा सत्रह वर्ष से कम आयु के किसी व्यक्ति के लिए उपलब्ध नहीं है।

टिकट बुकिंग में समय की बर्बादी रोकने के लिए रेलवे ने इस ऐप को शुरू किया है। इस ऐप में यात्री को स्टेशन से लेकर तारीख और नाम आदि की पूरी जानकारी भरनी होती है।

 अगर किसी कारण से पेमेंट ट्रांजैक्शन फेल हो जाए, तो 6-7 दिन में उस खाते में पैसे आ जाते हैं जिससे ऑनलाइन बुकिंग की गई थी।

Share this story