×
Kisan Credit Card: किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी! किसान क्रेडिट कार्ड पर मिलती रहेगी सब्सिडी
Kisan Credit Card: किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी! किसान क्रेडिट कार्ड पर मिलती रहेगी सब्सिडी

Kisan Credit Card: किसान क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करने वाले करोड़ों किसानों के लिए खुशखबरी है। 

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (Reserve Bank of India) ने किसान क्रेडिट कार्ड के जरिए शॉर्ट टर्म लोन दी जाने वाली सब्सिडी को वित्त वर्ष 2023 और 2024 (KCC Interest Subvention) में भी जारी रखने का फैसला किया है।यह फैसला आरबीआई ने लिया है।

इस निर्णय के बाद हर किसान को खेती से जुड़े कामों के लिए के लिए 3 लाख रुपये का लोन मिलता है। इस लोन पर किसानों को 7 फीसदी ब्याज दर मिलता है। इस 7 फीसदी में से सरकार 1.5 फीसदी पर सब्सिडी मिलती है।

वहीं जो किसान समय पर इस लोन के चुकाते हैं उन्हें 3 फीसदी ब्याज दर में छूट मिलती है। ऐसे में किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड पर 3 लाख का लोन लेने पर केवल 4 फीसदी ब्याज दर पर लोन मिलता है।

वित्त वर्ष 2023-24 में जारी रहेगी सब्सिडी


किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) के जरिए किसानों को सरकार 3 लाख का लोन देती है। इस लोन पर सरकार केवल 4 फीसदी का ब्याज दर वसूलता है।

इन पैसों को किसान खेती किसानी, डेयरी फार्मिंग, मधुमक्खी पालन आदि सभी कामों के लिए यूज कर सकते हैं। इसके अलावा किसान खाद बीज आदि के लिए भी पैसे ले सकते है।

अब सरकार ने फैसला लिया है कि Interest Subvention Scheme (ISS) के तहत किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड के तहत वित्त वर्ष 2022-23 और 2023-24 में छूट मिलती रहेगी।

इस बारे में बुधवार को केंद्रीय रिजर्व बैंक ने जानकारी दी है. यह छूट का लाभ पब्लिक सेक्टर बैंक (Public Sector Bank), प्राइवेट सेक्टर बैंक (Private Bank), स्मॉल फाइनेंस बैंक (Small Finance Bank) और को-ऑपरेटिव बैंक सभी के ग्राहकों को मिलेगा।

KCC के लिए अप्लाई करने के लिए चाहिए यह डॉक्यूमेंट्स

वोटर आईडी कार्ड (Voter ID Card)

आधार कार्ड (Aadhaar Card)

ड्राइविंग लाइसेंस (Driving License)

पासपोर्ट (Passport)

किसान के जमीन के कागज


केसीसी (KCC) के लिए अप्लाई करने का तरीका


किसान क्रेडिट कार्ड के लिए आप किसी बैंक में जाकर ऑफलाइन अप्लाई कर सकते हैं। इसके लिए आपको बैंक में जाकर एप्लीकेशन फील (KCC Application Form) करना होगा। इसके साथ ही सारी डॉक्यूमेंट्स जमा करने होंगे।

इसके बाद बैंक आपके सारे दस्तावेजों को क्रॉस वेरीफाई करेगा। इससे आपको किसान क्रेडिट कार्ड मिल जाएगा। इसके अलावा आप केसीसी के लिए बैंक की आधिकारिक वेबसाइट पर भी जाकर अप्लाई कर सकते हैं।

E Shram Card Payment List: ई श्रम कार्ड धारकों को अब इस तरह मिलेगा पैसा, हुआ बड़ा बदलाव, यहाँ देखे लिस्ट...

यह भी पढ़े:-

Railway general ticket holders: खुशखबरी! Railway ने जनरल टिकट वालों को दी बड़ी सुविधा, अब इस ऐप से भी कटा सकेंगे टिकट

Railway general ticket holders: खुशखबरी !Railway ने जनरल टिकट वालों को दी बड़ी सुविधा, अब इस ऐप से भी कटा सकेंगे टिकट

यूटीएस मोबाइल ऐप (UTS Mobile App) ग्राहकों को टिकट बुकिंग (Ticket Booking) के अलावा और भी कई सर्विस देता है। इस ऐप की मदद से यात्री मंथली पास के साथ-साथ प्लेटफॉर्म टिकट (Platform Ticket) की बुकिंग कर सकते हैं।

 इस ऐप के जरिये ट्रांजैक्शन करना भी आसान है क्योंकि इंटरनेट बैंकिंग और यूपीआई की मदद से टिकट बुकिंग का पेमेंट किया जा सकता है।

भारतीय रेलवे ने जनरल डिब्बे या बिना आरक्षण वाले डिब्बे की टिकट बुकिंग में बड़ी राहत दी है। अब जनरल टिकट की बुकिंग रेलवे के यूटीएस ऐप पर भी कटा सकेंगे।

यात्री पहले इस ऐप से 5 किलोमीटर की दूरी तक की टिकट बुक कर सकते थे। लेकिन अब इसके दायरे को बढ़ाकर 20 किमी कर दिया गया है। यानी 20 किमी तक का सफर तय करने के लिए आप काउंटर के बजाय ऐप से बुकिंग कर सकते हैं।

इस नई सुविधा का लाभ ऐसे लोग उठा सकेंगे जो बिना आरक्षण वाली टिकट पर यात्रा करते हैं। कम दूरी की यात्रा करने वाले भी इस ऐप सर्विस का भरपूर फायदा उठा सकते हैं। ऐसे लोगों को रेलवे के भीड़भाड़ वाले काउंटर पर जाने की जरूरत नहीं होगी।

घर बैठे अपने मोबाइल पर ही जनरल टिकट ली जा सकेगी। इससे रेलवे को भी फायदा होगा क्योंकि काउंटर पर भीड़ प्रबंधन एक बड़ी जिम्मेदारी होती है।

यूटीएस मोबाइल ऐप ग्राहकों को टिकट बुकिंग के अलावा और भी कई सर्विस देता है। इस ऐप की मदद से यात्री मंथली पास के साथ साथ प्लेटफॉर्म टिकट की बुकिंग कर सकते हैं।

इस ऐप के जरिये ट्रांजैक्शन करना भी आसान है क्योंकि इंटरनेट बैंकिंग और यूपीआई की मदद से टिकट बुकिंग का पेमेंट किया जा सकता है।

आइए जान लेते हैं कि यूटीएस ऐप से टिकट बुकिंग कैसे कर सकते हैं। इसके लिए मोबाइल पर यूटीएस ऐप डाउनलोड करना होगा। फिर बुकिंग टिकट मेनू में जाकर नॉर्मल बुकिंग को सेलेक्ट करना होगा।

 आपको पेपर या पेपरलेस टिकट चाहिए, इसके लिए भी विकल्प को सेलेक्ट करना होगा। इसके बाद ऑनलाइन पेमेंट का ऑप्शन दिखेगा। इंटरनेट बैंकिंग या यूपीआई से पेमेंट करने के बाद टिकट ऐप पर दिख जाएगी।

यूटीएस अनारक्षित ट्रेन टिकट बुक करने के लिए भारतीय रेलवे का आधिकारिक एंड्रॉइड मोबाइल टिकटिंग ऐप है। यह सेवा सत्रह वर्ष से कम आयु के किसी व्यक्ति के लिए उपलब्ध नहीं है।

टिकट बुकिंग में समय की बर्बादी रोकने के लिए रेलवे ने इस ऐप को शुरू किया है। इस ऐप में यात्री को स्टेशन से लेकर तारीख और नाम आदि की पूरी जानकारी भरनी होती है।

 अगर किसी कारण से पेमेंट ट्रांजैक्शन फेल हो जाए, तो 6-7 दिन में उस खाते में पैसे आ जाते हैं जिससे ऑनलाइन बुकिंग की गई थी।

Share this story