मैं मां के पास नहीं जा पाया, लेकिन लाखों माताओं ने आशीर्वाद दिया- जन्मदिन पर बोले पीएम मोदी
मैं मां के पास नहीं जा पाया, लेकिन लाखों माताओं ने आशीर्वाद दिया- जन्मदिन पर बोले पीएम मोदी

आज के दिन आम तौर पर मेरा प्रयास रहता है कि मैं मेरी मां के पास जाऊं, उनके चरण छूकर आशीर्वाद लूं. लेकिन आज मैं मां के पास नहीं जा सका"।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अपना 72वां जन्मदिन मना रहे हैं। इस अवसर पर भारतीय जनता पार्टी अपने सर्वमान्य नेता और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिवस पर समाज सेवा के कई कार्यक्रम आयोजित कर रही है। अपने जन्मदिवस के अवसर पर पीएम मोदी ने मध्य प्रदेश के कूनो नेशनल पार्क में नामीबिया से आए 8 चीतों को छोड़ा जिसके बाद अब महिला स्वयं सहायता समूह के सम्मेलन में शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि, 'आज जन्मदिन के मौके पर मैं अपनी मां से नहीं मिल सका लेकिन मुझे देश की माताओं का आर्शीवाद मिला है।'

  

पीएम मोदी ने इस अवसर पर कहा कि, 'आज के दिन आम तौर पर मेरा प्रयास रहता है कि मैं मेरी मां के पास जाऊं, उनके चरण छूकर आशीर्वाद लूं, लेकिन आज मैं मां के पास नहीं जा सका, लेकिन मध्य प्रदेश के आदिवासी अंचल की, अन्य समाज की, गांव-गांव में मेहनत करने वाली लाखों माताएं आज मुझे यहां आशीर्वाद दे रही हैं। ये दृष्य आज मेरी मां जब देखेगी तो जरूर संतोष होगा कि भले बेटा आज यहां नहीं गया, लेकिन लाखों माताओं ने आशीर्वाद दिया है। मेरी मां को आज ज्यादा प्रसन्नता होगी।

 

 

75 साल बाद चीता फिर से लौट आया है- पीएम मोदी

पीएम मोदी ने नामाबिया से आए 8 चीतों का जिक्र करते हुए कहा, 'मुझे आज इस बात की भी खुशी है कि भारत की धरती पर अब 75 साल बाद चीता फिर से लौट आया है। अब से कुछ देर पहले मुझे कुनो नेशनल पार्क में चीतों को छोड़ने का सौभाग्य मिला। आज इस मंच से पूरे विश्व को संदेश देना चाहता हूं कि आज जब करीब-करीब 75 वर्ष बाद आठ चीतें हमारे देश की धरती पर लौट आए हैं। नामीबिया से हमारे मेहमान आए हैं, इन मेहमानों के सम्मान में हम सभी इनका स्वागत करें

Share this story