पटना से दिल्ली हुई दूर, अब अमेरिका के बराबर लगेगा किराया, खर्च करने होंगे...
पटना से दिल्ली हुई दूर, अब अमेरिका के बराबर लगेगा किराया, खर्च करने होंगे...

अग्निपथ योजना के विरोध ने हवाई यात्रियों की जेब में लगाई आग

सेना में बहाली की प्रक्रिया में बदलाव को लेकर केंद्र सरकार ने जो फैसला किया है उससे बिहार में सड़क मार्ग से लेकर रेल मार्ग तक जगह-जगह तोड़फोड़ आगजनी की घटना देखने को मिल रही है। 

 

 

जगह-जगह उपद्रव के पटना की दर्जनों ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं। 

 इस कारण कई रेल यात्रियों ने विकल्प के तौर पर हवाई माध्यम से यात्रा करना बेहतर समझा। मगर पटना एयरपोर्ट से अचानक बुकिंग की डिमांड बढ़ जाने के कारण विमानों का किराया भी आसमान छूने लगा है। 

पटना एयरपोर्ट की यात्रियों ने जब दिल्ली का किराया एप्स और दूसरे माध्यमों से पता किया तो शुक्रवार की शाम पटना से दिल्ली की टिकट अधिकतम 27000 रुपये में मिल रहा था। मजबूरी में कुछ यात्रियों द्वारा इतना किराया चुका कर भी सफर तय किया गया। 

बता दें कि सामान्य तौर पर इसी तारीख पर दिल्ली जाने के लिए अधिकतम किराया 12000 रुपये तक देना होता है। हवाई जहाज के किराए पर नजर रखने वाले लोगों की मानें तो पटना से दिल्ली जाने का यह किराया अब तक का सबसे अधिक किराया है। पटना से दिल्ली जाने के लिए सबसे आखिरी विमान रात 8:30 बजे है।

बता दें कि शुक्रवार को विस्तारा की फ्लाइट का किराया 26880 रुपये रहा। शुक्रवार की शाम 7:00 बजे एयर इंडिया की फ्लाइट का किराया 17000 तक रहा। मुंबई कोलकाता और दूसरे शहरो की विमानों का किराया भी सामान्य किराए से दोगुना देखने को मिला।

यात्रा की जरूरत और टिकट की उपलब्धता के हिसाब से यात्रियों ने मोटी रकम खर्च कर हवाई सफर किया। इस दौरान कई यात्रियों को टिकट नहीं मिला जिससे वे मायूस भी दिखे। 

आंदोलन की स्थिति और रेल मार्ग पर परेशानी को देखते हुए पटना से जाने वाले यात्रियों के सामने समस्याएं आ गई हैं। 

अगले 1 हफ्ते तक विमानों के किराए में जबरदस्त उछाल देखने को मिला है। 

Share this story