ब्रिटेन की गृह मंत्री प्रीति पटेल ने हिंदू शब्द 'सेवा' को अपनी प्रेरणा बताया,
Priti Patel
ब्रिटेन की गृह मंत्री प्रीति पटेल ने हिंदू शब्द 'सेवा' को अपनी प्रेरणा बताते हुए कहा कि हमारे मूल्यों में स्वयं से पहले सेवा समाहित है. इसे हिंदू शब्द ‘सेवा’ के जरिये बहुत अच्छी तरह से परिभाषित किया जा सकता है, जिसका अर्थ होता है सेवा, दूसरे लोगों के प्रति समर्पण एवं संकल्प.

ब्रिटेन की गृह मंत्री प्रीति पटेल को काम करने की प्रेरणा हिंदू शब्द ‘सेवा’ से मिलती है. उन्होंने खुद ये बात मैनचेस्टर में चल रहे कंजरवेटिव पार्टी के सालाना सम्मेलन में कही. प्रीति ने कहा कि उन्हें इस पद पर काम करने की प्रेरणा हिंदू शब्द ‘सेवा’ से मिलती है, जिसमें अन्य लोगों के हितों को सर्वोपरि रखने को वरीयता दी जाती है. 

प्रीति पटेल ने सरकार के काम भी गिनाए

कंजरवेटिव पार्टी के सालाना सम्मेलन में बोलते हुए प्रीति पटेल ने कहा कि सरकार अपराध के खिलाफ सख्त फैसले ले रही है. साथ ही राजमार्गो को बाधित करने वाले प्रदर्शनकारियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने के साथ ही महिलाओं के खिलाफ अपराध एवं मादक पदार्थ मामलों में लिप्त लोगों के लिए जांच बढ़ाने जैसे कदम भी उठाए गए हैं. उन्होंने कहा कि सड़कों, रेलवे आदि को बाधित करने वालों को भी कड़ी सजा दी गई है. पटेल के इस बयान को हाल ही में जलवायु कार्यकर्ताओं द्वारा सड़कों को अवरुद्ध करने की घटनाओं से जोड़कर देखा जा रहा है।

दूसरों के प्रति समर्पण एवं संकल्प’

गृह मंत्री पटेल ने आगे कहा, ‘हमारे मूल्यों में स्वयं से पहले सेवा समाहित है. इसे हिंदू शब्द ‘सेवा’ के जरिये बहुत अच्छी तरह से परिभाषित किया जा सकता है, जिसका अर्थ होता है सेवा, दूसरे लोगों के प्रति समर्पण एवं संकल्प’. सम्मेलन में बोलते हुए भारतवंशी कैबिनेट मंत्री प्रीति पटेल ने प्रवासियों के लिए ब्रेक्जिट बाद की प्रणाली पर प्रगति की भी जानकारी दी, जो उन्होंने पिछले वर्ष आरंभ की थी. 

आज बोरिस जानसन भी देंगे भाषण

सत्तारूढ़ कंजरवेटिव पार्टी के सालाना सम्मेलन का समापन आज (बुधवार) प्रधानमंत्री बोरिस जानसन के भाषण के साथ होगा. गौरतलब है कि ब्रिटेन में पेट्रोल संकट को लेकर बोरिस सरकार की आलोचना हो रही है. पिछले कुछ दिनों से पूरे देश में पेट्रोल की भारी किल्लत हो गई है. 90% से ज्यादा पेट्रोल पंप सूखे पड़े हैं. हालात काबू करने के लिए सरकार को सेना उतारनी पड़ी है.  

Share this story