×
PM मोदी बोले- ये हर नागरिक के लिए गर्व का पल, भारत को मिली G-20 की अध्यक्षता
PM मोदी बोले- ये हर नागरिक के लिए गर्व का पल, भारत को मिली G-20 की अध्यक्षता

इसकी अध्यक्षता स्वीकार करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि इस समूह की अध्यक्षता स्वीकार करना भारत के हर नागरिक के लिए गर्व की बात है।

 


इंडोनेशिया : इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको विडोडो ने G-20 की अध्यक्षता आधिकारिक तौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सौंप दी। भारत एक साल के लिए इसकी अध्यक्षता संभालेगा।

 

इसकी अध्यक्षता स्वीकार करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि इस समूह की अध्यक्षता स्वीकार करना भारत के हर नागरिक के लिए गर्व की बात है।

इंडोनेशिया के बाली में दो दिवसीय G-20 शिखर सम्मेलन बुधवार को समाप्त हो गया। इन दो दिनों में बाली में जुटे दुनियाभर के नेताओं ने विकास और शांति के एजेंडे पर चर्चा की। 

इसी के साथ इंडोनेशिया ने अगले एक साल के लिए भारत को G-20 की अध्यक्षता सौंप दी।


 


 



इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको विडोडो ने G-20 की अध्यक्षता आधिकारिक तौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सौंप दी।

इसकी अध्यक्षता स्वीकार करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि इस समूह की अध्यक्षता स्वीकार करना भारत के हर नागरिक के लिए गर्व की बात है।

मोदी ने कहा, हम G-20 के हर सदस्य देश के प्रयासों के साथ इसे वैश्विक कल्याण के लिए लाभाकरी बनाएंगे।

प्रधानमंत्री मोदी ने G-20 सदस्य देशों को संबोधित करते हुए कहा कि भारत यह जिम्मा ऐसे समय पर उठा रहा है.

\जब विश्व जियो पॉलिटिकल तनाव, आर्थिक मंदी, खाद्यान्नों और ऊर्जा की बढ़ रही कीमतों और कोरोना के दीर्घकालीन दुष्प्रभावों से एक-साथ जूझ रहा है. ऐसे समय में विश्व G-20 की ओर आशा की नजर से देखता है।

इंडोनेशिया में दो दिनों तक चले G-20 शिखर सम्मेलन की समाप्ति के साथ ही इसके सदस्य देशों ने एक संयुक्त घोषणापत्र भी जारी किया।

विदेश सचिव विनय क्वात्रा ने कहा कि भारत ने 'G-20 आउटकम डॉक्यूमेंट' का मसौदा तैयार करने में निर्णायक भूमिका निभाई है। भारत को G-20 की अध्यक्षता मिलने पर ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक ने कहा कि जी-20 की अध्यक्षता भारत को मिलना बहुत उत्साह भरा है।

उन्होंने भारत के साथ ट्रेड डील को लेकर कहा कि हमें भारत के साथ इस समझौते पर बने रहने होगा. लेकिन पहले हमें कुछ चीजें दुरुस्त करनी होगी। 

G-20 देशों में अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, फ्रांस, जर्मनी, भारत, इंडोनेशिया, इटली, जापान, दक्षिण कोरिया, मेक्सिको, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, तुर्की, ब्रिटेन, अमेरिका और यूरोपीयन यूनियन है।

बता दें कि G-20 देशों की जीडीपी पूरी दुनिया की 80 फीसदी से अधिक है। दुनियाभर का 75 फीसदी व्यापार इन्हीं 20 देशों में होता है।

Share this story