International Day of Yoga: अंतरराष्ट्रीय योग दिवस से पहले सैकड़ों लोग वाशिंगटन में योग सत्र में हुए शामिल
Hundreds attend yoga session in Washington ahead of International Day of Yoga

Hundreds attend yoga session in Washington ahead of International Day of Yoga

वाशिंगटन।  अंतरराष्ट्रीय योग दिवस (21 जून) से पहले यहां प्रतिष्ठित ‘वाशिंगटन मोन्यूमेंट’ पर भारतीय दूतावास द्वारा आयोजित योग सत्र में सैकड़ों लोगों ने भाग लिया। अमेरिकी प्रशासन, संसद, उद्योग, राजनयिक कोर, मीडिया और प्रवासी भारतीय सहित विभिन्न क्षेत्रों से लोगों ने शनिवार को आयोजित इस कार्यक्रम में हिस्सा लिया।

 

 



यूएस नेशनल साइंस फाउंडेशन (एनएसएफ) के निदेशक डॉ सेतुरमण पंचनाथन ने कहा कि योग दुनिया को भारत का सबसे बड़ा उपहार है। कई प्रवासियों और अमेरिकी संगठनों के सहयोग से दूतावास द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में डॉ पंचनाथन को सम्मानित अतिथि के रूप में आमंत्रित किया गया था।

 

 



एनएसएफ के निदेशक ने कहा कि योग सभी भौगोलिक क्षेत्रों और सीमाओं को एकजुट करने वाली एक मजबूत शक्ति है।



समारोह के तहत एक सामान्य योग प्रोटोकॉल सत्र आयोजित किया गया, जिसमें उपस्थित लोगों ने उत्साहपूर्वक भाग लिया। अमेरिका में भारत के राजदूत तरणजीत सिंह संधू ने कहा कि योग शारीरिक, मानसिक, आध्यात्मिक और बौद्धिक कल्याण को बढ़ाने वाला है।



उन्होंने कहा कि कोविड-19 के बाद के उभरते परिदृश्य में योग लचीलापन, स्वास्थ्य, एकजुटता, करुणा और प्रसन्ना हासिल करने में मदद कर रहा है। संधू ने कहा कि योग लोगों के बीच महत्वपूर्ण आपसी जुड़ाव और संपर्क को गहरा कर रहा है, जो भारत-अमेरिका द्विपक्षीय साझेदारी के मूल में है।


अमेरिका में भारत के सभी पांच वाणिज्य दूतावास - न्यूयॉर्क, शिकागो, ह्यूस्टन, अटलांटा और सैन फ्रांसिस्को - भी 2022 के अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित कर रहे हैं।

भारत के आध्यात्मिक नेता ने अमेरिका में ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ कार्यक्रमों की शुरुआत की

भारतीय आध्यात्मिक नेता स्वामी अवधेशानंद गिरि ने भारत की आजादी के 75 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में भारतीय-अमेरिकी समुदाय द्वारा आयोजित ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ समारोहों की शुरुआत की।



जूना अखाड़े के प्रमुख अवधेशानंद ने ‘फेडरेशन ऑफ इंडियन एसोसिएशन’ (एफआईए) के पदाधिकारियों की उपस्थिति में शनिवार को समारोहों के एक पोस्टर का अनावरण किया और इस प्रयास के लिए भारतीय-अमेरिकी समुदाय को बधाई दी।



अनावरण का आयोजन न्यूयॉर्क के लॉन्ग आइलैंड में समुदाय के नेता प्रेम भंडारी के आवास पर किया गया। इसमें एफआईए के अध्यक्ष केनी देसाई, अध्यक्ष अंकुर वैद्य और एफआईए के पूर्व अध्यक्ष आलोक कुमार शामिल हुए। भंडारी ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ समारोहों के लिए एफआईए के संयोजक हैं।



वैद्य ने वर्तमान में ‘टाइम्स स्क्वायर’ में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस समारोह का नेतृत्व करने के लिए अमेरिका आए अवधेशानंद को बताया कि एफआईए और उसके स्वयंसेवक एक नया विश्व रिकॉर्ड बनाने के लिए अगस्त में न्यूयॉर्क में 2,000 ‘डमरू’ बजाएंगे।



उन्होंने बताया कि बाहर आयोजित (आउटडोर) किसी कार्यक्रम में सबसे अधिक झंडे फहराने का वर्तमान गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया सरकार के पास है और एफआईए इस रिकॉर्ड को भी तोड़ने की तैयारी कर रहा हैं।



उन्होंने बताया कि समारोहों के दौरान स्वयंसेवक 190 फुट लंबा तिरंगा फहराएंगे। यही झंडा ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के उपलक्ष्य में 15 अगस्त को मैनहट्टन हवाई क्षेत्र में और उसके आसपास एक विमान के पीछे फहराया जाएगा।



अवधेशानंद ने कहा कि मैनहट्टन के हवाई क्षेत्र में इस तरह तिरंगा फहराना न केवल प्रतीकात्मकता है, बल्कि दुनिया में भारत की स्थिति को लेकर यहां भारतीय प्रवासियों के विश्वास को भी दर्शाता है।



वैद्य ने यह भी बताया कि एफआईए मैनहट्टन में 43वीं वार्षिक भारत दिवस परेड के दौरान अयोध्या राम मंदिर विषय पर आधारित 50 फुट लंबी नौका प्रदर्शित करने की तैयारी कर रहा है।

Share this story