Monkeypox Case in Delhi: दिल्ली में मंकीपॉक्स के एक और मामले की पुष्टि
Monkeypox Alert: गाइडलाइन जारी, कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग और 21 दिन का आइसोलेशन, यह रखें सावधानी

दिल्ली में मंकीपॉक्स के एक और मामले की पुष्टि हुई है। 35 वर्षीय नाइजीरियाई शख्स की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। नाइजीरिया का यह दूसरा शख्स है जो मंकीपॉक्स से संक्रमित पाया गया है।

सूत्रों ने बताया कि उसने हाल में कहीं यात्रा नहीं की है। दिल्ली में मंकीपॉक्स पॉजिटिव लोगों की संख्या तीन हो गई है। देश में अब तक आठ केस आए हैं।

लोक नायक जयप्रकाश (एलएनजेपी) अस्पताल में भर्ती दिल्ली के मंकीपॉक्स के पहले मरीज को सोमवार रात को छुट्टी दी गई थी। पश्चिमी दिल्ली का यह निवासी (34) पिछले महीने मंकीपॉक्स से संक्रमित पाया गया था।

अधिकारियों ने बताया कि उनके संपर्क में आए डॉक्टर सहित 14 लोगों को अलग किया गया, लेकिन इनमें से किसी में भी कोई लक्षण नहीं दिखा। उन्होंने बताया कि उसे सोमवार रात अस्पताल से छुट्टी दे दी गई।


देश में अब तक मंकीपॉक्स के आठ केस की पुष्टि हुई है। आज ही केरल में यूएई से लौटा 30 वर्षीय एक व्यक्ति मंकीपॉक्स से संक्रमित पाया गया है, जिसके साथ ही राज्य में इस वायरस से संक्रमित लोगों की कुल संख्या पांच हो गई है।

राज्य की स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने मंगलवार को कहा कि व्यक्ति 27 जुलाई को कालीकट हवाई अड्डे पर विमान से उतरा था और मलप्पुरम जिले में एक अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है।

 मंत्री ने कहा कि उसकी हालत स्थिर है. व्यक्ति के माता-पिता और उसके संपर्क में आए अन्य लोगों पर नजर रखी जा रही है।

मंकीपॉक्स का पहला मामला 14 जुलाई को कोल्लम जिले से सामने आया था और मरीज को पिछले सप्ताह अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी। संक्रमण का दूसरा मामला 18 जुलाई को कन्नूर जिले में और तीसरा मामला पड़ोसी मलप्पुरम में 22 जुलाई को सामने आया था। वे सभी विदेश से लौटे थे।

केरल सरकार ने सोमवार कहा था कि 30 जुलाई को जिस 22 वर्षीय युवक की मौत हो गई थी, उसके मंकीपॉक्स से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। यह मंकीपॉक्स से देश में हुई पहली मौत थी।

Share this story