अमित शाह और जेपी नड्‌डा से मुलाकात किया कैप्टन अमरिंदर सिंह, पार्टी का विलय कर सकते है भाजपा में
अमित शाह और जेपी नड्‌डा से मुलाकात किया कैप्टन अमरिंदर सिंह, पार्टी का विलय कर सकते है भाजपा में 

नड्डा और शाह से मिलने के पहले अमरिंदर सिंह प्रधानमंत्री मोदी से भी कर चुके है मुलाक़ात

नई दिल्ली: पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह आज दिल्ली में गृहमंत्री अमित शाह और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात करने वाले हैं। मुलाकात के दौरान पंजाब लोक कांग्रेस की भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) में विलय पर भी चर्चा हो सकती है। नड्डा और शाह से मिलने के पूर्व अमरिंदर सिंह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मुलाकात कर चुके हैं। पार्टी के बड़े नेताओं की कैप्टन अमरिंदर सिंह से मुलाकात को 2024 के लोकसभा चुनावों से जोड़कर देखा जा रहा है, जहां पार्टी पहले से अधिक सीट जीतने पर अपना ध्यान केंद्रित कर रही है।

 

 अमित शाह और जेपी नड्‌डा से मुलाकात किया कैप्टन अमरिंदर सिंह, पार्टी का विलय कर सकते है भाजपा में 

 

कैप्टन को मिल सकती है कमान
अगर पंजाब लोक कांग्रेस का भाजपा में विलय होता है तो पार्टी अमरिंदर सिंह को पंजाब में बड़ी जिम्मेदारी दे सकती है। आम आदमी पार्टी के उदय के बाद सभी पार्टियां फिर से राज्य में जमीन तलाशने की नई संभावनाओं पर विचार कर रही हैं। ऐसे में कांग्रेस को दो बार सत्ता में ला चुके कैप्टन भाजपा के लिए बड़ी उपलब्धि बन सकते हैं, साथ ही भाजपा की बड़े सिख चेहरे की तलाश भी पूरी हो सकती है।

 

अमित शाह और जेपी नड्‌डा से मुलाकात किया कैप्टन अमरिंदर सिंह, पार्टी का विलय कर सकते है भाजपा में 

 

 

 

 

विधानसभा चुनाव में नहीं मिला था फायदा
विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी की जबरदस्त जीत के आगे बड़े-बड़े नेताओं ने घुटने टेक दिए थे। लोकसभा चुनाव में परिस्थिति अलग होने के कारण भाजपा को उम्मीद है कि राज्य में वह अच्छा प्रदर्शन कर सकती है। किसान आंदोलन ने भी राज्य में भाजपा की छवि को खासा नुकसान पहुंचाया है। हालांकि पार्टी को उम्मीद है कि मोदी के चेहरे पर लोकसभा चुनाव के नतीजे उसके अनुकूल आ सकते हैं।

यह भी पढ़ें 

अगर आप सोने चांदी की खरीददारी करना चाहते हैं या आप सोने में निवेश (gold invest) करना चाहते हैं तो यह आपके लिए जरूरी खबर है।

बैंक बाजार डॉट कॉम के अनुसार आज यानी सोमवार को मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh Gold Price Today) की राजधानी भोपाल में 22 कैरेट सोने के दाम 46,830  रुपए प्रति 10 ग्राम और 24 कैरेट सोने के दाम 49,170 रुपये प्रति 10 ग्राम हैं।

सोने के दाम 

(Bhopal gold Price Today) राजधानी भोपाल के सराफा बाजार में कल यानी रविवार को (22K Gold) 22 कैरेट सोना  46,580 रुपये प्रति 10 ग्राम बिका,  जबकि (24K Gold) 24 कैरेट सोना कल 48,910 रुपये प्रति 10 ग्राम बिका। 

यानी आज सोने के दामों में कोई बदलाव नहीं हुआ है।

चांदी के दाम 

बैंक बाजार डॉट काम के अनुसार यदि बात करें चांदी कि तो जो चांदी भोपाल के सराफा बाजार में रविवार को 62,000 रुपये प्रति किलोग्राम बिक रही थी, जबकि आज भी  62,000  के दाम पर बिकेगी।

कैसे पहचाने सोने की शुद्धता

(International Organization for Standardization) अंतरराष्ट्रीय मानकीकरण संगठन द्वारा सोने की शुद्धता पहचानने के लिए हॉल मार्क दिए जाते हैं।  24 कैरेट सोने के आभूषण पर 999, 23 कैरेट पर 958, 22 कैरेट पर 916, 21 कैरेट पर 875 और 18 कैरेट पर 750

ज्यादातार सोना 22 कैरेट में बिकता है, वहीं कुछ लोग 18 कैरेट का इस्तेमाल भी करते हैं। कैरेट 24 से ज्यादा नहीं होता, और जितना ज्यादा कैरेट होगा, सोना उतना ही शुद्ध होगा। 

कैसे करें 22 और 24 कैरेट सोने में अंतर

24 कैरेट गोल्ड 99.9 प्रतिशत शुद्ध होता है और 22 कैरेट लगभग 91 प्रतिशत शुद्ध होता है।  22 कैरेट गोल्ड में 9% अन्य धातु जैसे तांबा, चांदी, जिंक मिलाकर जेवर तैयार किया जाता है। 

जबकि 24 कैरेट सोना सबसे शुद्ध होता है, बता दें कि 24 कैरेट सोने के आभूषण नहीं बनाए जा सकते।  इसलिए ज्यादात्तर दुकानदार 22 कैरेट में सोना बेचते हैं। 

सोना खरीदते समय इन चार बातों को रखें ध्यान, वरना होगा भारी नुकसान

लोग सोना खरीदते हैं, लेकिन खरीदारी से पहले कई बार कुछ बातों का ध्यान नहीं देते, जिसकी वजह से उन्हें परेशानी होती है। ऐसे में अगर आप सोने के गहनों की खरीदारी का मन बना ही चुके हैं, तो इन पांच बातों पर जरूर ध्यान दें।

सोने की शुद्धता

वैसे तो हर दुकानदार अपने बेचे गए गहने को मार्केट में चल रहे रेट के अनुसार वापस लेने का दावा करता है लेकिन अगर आप उसके पास जाएंगे तो जरूरी नहीं कि दावे के अनुरूप ही मुनाफा मिले और सोना वाकई उतना शुद्ध हो जितना कि उसने दावा किया था।

ऐसे में सोने के लिए हॉलमार्क को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर शुद्धता का पैमाना माना जाता है जिसमें यह गारंटी होती है कि सोना शुद्ध है।

हॉलमार्क चार्ज

कई बार हॉलमार्क के गहनों की कीमत भी अलग-अलग दुकानों पर अलग-अलग हो सकती है। इसलिए कई जगहों पर जानकारी लेकर उपयुक्त जगह से ही हॉलमार्क सोना खरीदें।

सोने की खरीदारी कैसे करें?

मेकिंग चार्ज

मेकिंग चार्ज अलग-अलग गहनों के मुताबिक अलग-अलग होता है जिसे ज्वेलर्स सोने के गहने बनाने के मेहनताने के रूप में लेते है। 

ऐसे में ज्वेलरी खरीदते वक्त अलग-अलग जगहों के मेकिंग चार्ज की जानकारी जरूर ले। जिससे आपके गहने की कीमत में कम से कम मेकिंग चार्ज हो और सोना या मेटल अधिक हो।

जब भी आप गहने बेचेंगे, मेकिंग चार्ज की कीमत का नुकसान तो होगा ही क्योंकि बेचते वक्त तो आपको सोने की कीमत ही मिलेगी।

 ऐसे में कम से कम मेकिंग चार्ज वाली खरीदारी ही फायदे का सौदा है।

Share this story