पहले किया लड़के का अपहरण, फिर महिला संग जबरन खिंचवाई अश्लील फ़ोटो
पुलिस के मुताबिक, श्रवण को छोड़ने की एवज में 70 लाख रुपए की फिरौती मांगी गई। रिपोर्ट में बताया कि एक महिला के साथ उसकी आपत्तिजनक फोटो वीडियो वायरल करके दुष्कर्म का मामला दर्ज कराने की धमकी भी दे रही है। बनाड़ पुलिस की ओर से गिरफ्तार किए गए आरोपियों में मुखिया पाबूराम विश्नोई, श्रवण के रिश्ते में भाई लगता है।

जोधपुर के एम्स में कार्यरत वार्ड बॉय का पहले अपहरण किया, फिर युवतियों के साथ अश्लील फोटो खींची। बंधक बनाकर उसके परिजनों को फोन कर 70 लाख रुपए की डिमांड की। घबराए परिवार वाले पुलिस के पास पहुंचे। बुधवार देर रात पुलिस ने छापेमारी कर युवक को मुक्त कराया। साथ ही, 2 महिलाओं सहित 4 को गिरफ्तार किया है।

एसीपी राजेंद्र प्रसाद दिवाकर ने बताया कि बाड़मेर के धोरीमन्ना निवासी श्रवण जोधपुर के एम्स में नौकरी करता है। उसके पिता ने रिपोर्ट दी है। उन्होंने बताया कि 3 अक्टूबर को गांव धोरीमन्ना के ही रहने वाले पाबूराम पुत्र प्रतापराम ने श्रवण को फोन किया। उसे सारण नगर बनाड़ (जोधपुर) स्थित मकान पर ले गया। पाबूराम उसे वहीं के कमरे पर छोड़कर चला गया। उसके कमरे पर दो युवक और एक महिला आए। इन लोगों ने पहले उसके पुत्र के साथ मारपीट की। फिर बंधक बना लिया। महिला के साथ आपत्तिजनक फोटो खींचे। एससीएसटी एक्ट केस में फंसाने और अश्लील फोटो के बल पर धमकाने लगे। 7 अक्टूबर तक श्रवण को आरोपी इधर-उधर घुमाते रहे।

पुलिस के मुताबिक, श्रवण को छोड़ने की एवज में 70 लाख रुपए की फिरौती मांगी गई। रिपोर्ट में बताया कि एक महिला के साथ उसकी आपत्तिजनक फोटो वीडियो वायरल करके दुष्कर्म का मामला दर्ज कराने की धमकी भी दे रही है। बनाड़ पुलिस की ओर से गिरफ्तार किए गए आरोपियों में मुखिया पाबूराम विश्नोई, श्रवण के रिश्ते में भाई लगता है।

पुलिस ने बताया कि एम्स जोधपुर में वार्ड बॉय की नौकरी करने वाले श्रवण को 3 अक्टूबर को शिकारगढ़ स्थित मिनी मार्केट के पास पाबूराम ने अपने कमरे पर बुलाया था, यहां एक लड़की भी थी, श्रवण के कमरे पर पहुंचने पर उसे लोगों ने पकड़ लिया, इस दौरान पाबूराम के साथ विकास जाट, पूनाराम विश्नोई, विनीत मेघवाल व सहदेव भी थे। 

पाबूराम ने अपने दोस्त पवन के जरिए श्रवण की बुआ के बेटे को फोन किया। पवन ने कहा- श्रवण उसके पास बंधक है। उसने उसकी बहन से छेड़छाड़ की है। छोड़ने के एवज में 70 लाख रुपए मांगे। श्रवण के पिता जोधपुर पहुंचे। 6 अक्टूबर को बनाड़ पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने बुधवार देर रात सारण नगर स्थित पाबूराम के कमरे पर रेड की। श्रवण को मुक्त करवाने के साथ वहां से दो महिला और चार पुरुषों को गिरफ्तार किया। इसमें पन्नाराम उर्फ पवन पुत्र बीजाराम, पाबूराम पुत्र चुन्नीलाल, विनीत कुमार पुत्र जगदीश प्रसाद, विकास मान पुत्र लीलाधर, संगीता पत्नी गोपाल सिंह और मुस्कान शामिल हैं।

Share this story