×

Air India News: एयर इंडिया की फ्लाइट में एक और कांड, नशे में 8 साल की बच्ची के साथ कर रहा था गलत काम

Air India News: एयर इंडिया की फ्लाइट में एक और कांड, नशे में 8 साल की बच्ची के साथ कर रहा था गलत काम

नई दिल्ली। एयर इंडिया फ्लाइट में पेशाब का मामला (Air India Pee Case) इन दिनों सुर्खियों में है। इससे इतर एयर इंडिया में यात्री द्वारा एक और दुर्व्यवहार की घटना सितंबर में घटी थी।

शनिवार को एयर इंडिया (Air India) ने कहा कि सितंबर में मुंबई-लंदन की एक फ्लाइट में इसी तरह की घटना घटी थी। इसके बाद दुर्व्यवहार करने वाले यात्री को मेट्रोपॉलिटन पुलिस को सौंप दिया गया था। यात्री शराब के नशे में धुत था और उसने एक आठ वर्षीय बच्ची को अनुचित तरीके से छूने का भी प्रयास किया था।

रिपोर्ट के अनुसार घटना 5 सितंबर की है। लड़की की मां और 20 वर्षीय भाई की शिकायत के अनुसार फ्लाइट AI-131 में वह यात्रा कर रहे थे। यात्रा के दौरान नशे में धुत यात्री ने बच्ची को अनुचित तरीके से छूने का प्रयास किया था। DGCA (नागरिक उड्डयन महानिदेशालय) अधिकारियों ने कहा है कि इस घटना की सूचना उन्हें नहीं दी गई थी।

हालांकि एयर इंडिया के एक प्रवक्ता ने कहा कि लैंडिंग पर कथित अपराधी को मेट्रोपॉलिटन पुलिस द्वारा फ्लाइट से बाहर निकाला गया। एयर इंडिया के केबिन क्रू ने मेट्रोपॉलिटन पुलिस को बयान दिया और बताया कि घटना की रिपोर्ट 19 सितंबर, 2022 को DGCA को दी गई. इस घटना को लेकर एयर इंडिया ने कहा कि क्रू मेंबर ने यात्री की मदद की।

वहीं एयरलाइन के प्रवक्ता ने कहा कि एयर इंडिया पुष्टि करती है कि 5 सितंबर, 2022 को मुंबई-लंदन उड़ान में एक घटना हुई थी। केबिन क्रू ने तुरंत कार्रवाई की और कथित अपराधी को अलग कर दिया।

 पीड़िता की तत्काल मदद की गई और उसे और उसके परिवार को वैकल्पिक सीटों पर स्थानांतरित करने में मदद करने सहित सभी सहायता दी गई। 

 प्रवक्ता ने आगे बताया कि चूंकि आरोपी यात्री को चेतावनी भी दी गई थी इसके बाद भी उसने दुर्व्यवहार करना जारी रखा. इसके बाद उस पर कार्रवाई की गई।

एयरलाइन को लिखित शिकायत में बच्ची की मां ने कहा कि ‘मेरा बेटा जो 20 साल का है और बेटी 8 साल की है, उसे एक नशे में यात्री के साथ परेशानी का सामना करना पड़ा, जिसे टाटा एयर इंडिया के कर्मचारियों द्वारा अधिक शराब परोसी ग।. मेरी बेटी को उसने अनुचित तरीके से छूने की कोशिश की।

 शिकायत में आगे कहा गया है कि फ्लाइट के कर्मचारियों को समय पर प्रतिक्रिया देनी चाहिए थी, लेकिन उन्होंने उसे हटाने की जहमत नहीं उठाई। घटना उस समय हुई जब बच्ची और भाई सो रहे थे।’

Share this story