हाइटेक सेक्स रैकेट का पर्दाफ़ाश, युवक के साथ चार युवतियां और दलाल गिरफ्तार
हाइटेक सेक्स रैकेट का पर्दाफ़ाश, युवक के साथ चार युवतियां और दलाल गिरफ्तार

छत्तीसगढ़। महासमुंद के सराईपाली पुलिस ने सेक्स रैकेट का पर्दाफाश किया है। 4 युवतियां और 2 युवकों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस भंवरपुर रोड स्थित अटल आवास पर जब दबिश दी तो युवक- युवतियां को संदिग्ध हालत में मिले। मिली जानकारी के अनुसार सरायपाली पुलिस की रात्रि गश्त कर रही टीम ने देर रात करीब 3 बजे सरायपाली-सारंगढ़ पर बसे ग्राम बोंदा में सड़क से हटकर कुछ संदिग्धों को देखा। मामले में शंका होने पर जब पुलिस टीम ने रात के अंधेरे में एक घर पर छापा मारा तो वहां पर आरोपी विनोद श्रीवास (36) निवासी बोंदानवापाली, खगेश्वर साहू (32) निवासी बोंदानवापाली को तीन लड़कियों के साथ संदिग्ध हालत में पकड़ा गया।

पूछताछ में बताया गया कि उक्त दोनों आरोपी लंबे समय से बाहर से लड़कियों को बुलाकर क्षेत्र में सेक्स रैकेट का धंधा चलाते हैं। तीनों युवतियों की उम्र 20-22 वर्ष की बताई जा रही है। रायपुर निवासी होना बताया जा रहा है। थाना प्रभारी राजेश सिंह ने बताया कि पांचों आरोपियों के खिलाफ धारा 151 के तहत कार्रवाई करते हुए उन्हें एसडीएम कोर्ट में पेश किया गया। इस छापेमारी कार्रवाई के दौरान एसआई विजय मिश्रा, आरक्षक अनिल मांझी, सैनिक संजू यादव शामिल रहे। पुलिस द्वारा जिस्मफरोशी के धंधे से जुड़े आरोपियों की गिरफ्तारी होने के बाद एक बड़े सेक्स रैकेट की खुलासा होने की संभावना जताई है।

जिले में पीटा एक्ट लागू नहीं होने से सेक्स रैकेट के तहत पकड़े गए आरोपियों के खिलाफ पुलिस बड़ी कार्रवाई नहीं कर पाती। उनके खिलाफ महज धारा 151 के तहत प्रतिबंधात्मक कार्रवाई करनी पड़ती है। जिस कारण आरोपी जमानत मिलने पर फिर से धंधे में लिप्त हो जाते हैं। वहीं पीटा एक्ट लागू कराने की मांग लोगों ने की है। सभी के विरुद्ध धारा 151 व धारा 107,116 (3) पंजीबद्ध कर सभी आरोपियों को न्यायालय पेश किया गया।

Share this story