बिहार के इन 12 जिलों में खतरनाक रफ्तार से बढ़ रहा संक्रमण, इन तीन में हैं सबसे ज्यादा मामले
vvv

अब बिहार के छोटे शहरों में भी कोरोना का ग्राफ चढ़ने लगा है। वैसे जिलों में पिछले 8 जनवरी तक इन जिलों में सक्रिय मरीजों की संख्या 50 के इर्द-गिर्द थी, वह अचानक बढ़कर दो सौ के करीब पहुंच गई। शुरू के 12-13 दिनों में इन जिलों में रोज एक से दो केस मिलते थे लेकिन अब वहां 40-50 के औसत में मामले आने लगे है। 


शुरू के दिनों में पटना, मुजफ्फरपुर व गया में ज्यादा मामले सामने आ रहे थे जिसमें सर्वाधिक मामले पटना में थे। अब राज्य के 12 जिलों में कोरोना संक्रमितों की संख्या में करीब चार गुना बढोतरी हुई है। इन जिलों में- अररिया, अरवल, औरंगाबाद, बांका, लखीसराय, मधेपुरा, नवादा, पश्चिमी चंपारण, पूर्णिया, रोहतास, सीवान एवं सुपौल शामिल है। 

तीन जिलों में कोरोना के मामले अधिक 
राज्य के तीन जिलों पटना, गया व मुजफ्फरपुर में कोरोना संक्रमण के मामले सबसे अधिक सामने आ रहे हैं। पटना में 8 जनवरी तक 7072 कोरोना के मरीज थे जबकि 12 जनवरी को इनकी संख्या बढ़कर 13,375 हो गयी। वहीं, गया में 8 जनवरी को 953 संक्रमण के मामले थे जो कि बुधवार को बढ़कर 1164 हो गए और मुजफ्पुरपुर में यह 569 से बढ़कर इस दौरान 1329 हो गए हैं। 


अन्य जिलों में भी कोरोना संक्रमण में हो रही बढ़ोतरी 

राज्य के शेष 23 जिलों में भी कोरोना संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी देखी जा रही है। इन जिलों में हालांकि कोरोना संक्रमण की रफ्तार अपेक्षाकृत कम है। इनमें पांच जिलों गोपालगंज, खगड़िया, बक्सर, शेखपुरा व शिवहर में संक्रमण की रफ्तार सबसे कम है। 

संक्रमितों के मामले

जिला       08 जनवरी   12 जनवरी 
अररिया            70         256
अरवल             76         224
औरंगाबाद        86         306
बांका               78         284
लखीसराय        56         186
मधेपुरा             61         355
नवादा              47         185
पश्चिमी चंपारण   84         283
पूर्णिया             73         331
रोहतास            88         275
सीवान              43         262
सुपौल              34         234

Share this story