Aamir Khan के घर समेत 6 ठिकानों पर ED ने मारा छापा, 17 करोड़ रुपये जब्त!
Aamir Khan के घर समेत 6 ठिकानों पर ED ने मारा छापा, 17 करोड़ रुपये जब्त! 

ED raids Aamir Khan’s house: प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के अधिकारियों ने Aamir Khan के आवास से 17 करोड़ रुपये से अधिक की वसूली की, मौके पर 10 ट्रंक मिले। यह वसूली व्यवसायी आमिर खान के गार्डन रीच स्थित आवास से की गई।

नकदी खान के आवास पर 5 ट्रंक में मिली थी। जांच एजेंसी की तलाशी शनिवार सुबह शुरू हुई और नकदी की गिनती देर रात तक चलती रही। ईडी की तलाशी टीम के साथ बैंक अधिकारी और केंद्रीय बल भी थे।

 


सूत्रों ने कहा कि नोटों के ढेर ज्यादातर 500 रुपये के मूल्यवर्ग के थे। हालांकि, 2,000 रुपये और 200 रुपये के नोट भी थे।छापेमारी प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (पीएमएलए), 2002 के प्रावधानों के तहत की गई थी।

फेडरल बैंक के अधिकारियों द्वारा मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट की अदालत में दायर एक शिकायत के आधार पर आमिर खान और अन्य के खिलाफ पिछले साल 15 फरवरी को कोलकाता के पार्क स्ट्रीट पुलिस स्टेशन में पहली सूचना रिपोर्ट (एफआईआर) के आधार पर मामला दर्ज किया गया था।

 

 

 

ईडी ने कहा कि आमिर खान ने ई-नगेट्स नाम से एक मोबाइल गेमिंग एप्लिकेशन लॉन्च किया, जिसे जनता को धोखा देने के उद्देश्य से डिजाइन किया गया था।प्रारंभिक अवधि के दौरान, एजेंसी ने कहा, उपयोगकर्ताओं को कमीशन के साथ पुरस्कृत किया गया था और वॉलेट में शेष राशि को परेशानी से मुक्त किया जा सकता था।

जांच एजेंसी ने कहा, “इससे उपयोगकर्ताओं में शुरुआती विश्वास पैदा हुआ और उन्होंने अधिक प्रतिशत कमीशन और अधिक संख्या में खरीद ऑर्डर के लिए बड़ी मात्रा में निवेश करना शुरू कर दिया।”

 

 

 

आपको जानकारी देते चलें कि प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने ये रेड मोबाइल गेमिंग ऐप से धोखाधड़ी के मामले के संदर्भ में की थी। ईडी ने राज्य की राजधानी कोलकाता में कुल 6 जगहों पर छापेमारी में करोड़ों रुपयों का अवैध धन प्राप्त किया है।

ईडी ने कोलकाता के न्यू टाउन, एकबेल्लोर, पार्क स्ट्रीट और गार्डन रीच जैसे इलाकों में शनिवार को इस सफल रेड को अंजाम दिया। एक रिपोर्ट के अनुसार, जाँच एजेंसी को वाहिद रहमान नामक शख्स की तलाश है।

 

 

इस बीच पूरा घर सीआरपीएफ जवानों से घिरा हुआ है। साथ ही पूरे इलाके में अतिरिक्त जवानों को तैनात किया गया है। ईडी पहले ही बैंक अधिकारियों से संपर्क कर चुका है। मालूम हो कि पैसे गिनने की मशीन भी लाई जा रही है। 

 ईडी के सूत्रों के अनुसार, बरामद धन का काफी हद तक कोई हिसाब नहीं है।  हालांकि यह पैसा कहां से आया और कैसे आया, इस बारे में वह कोई जानकारी नहीं दे सके। इसी वजह से केंद्रीय खुफिया एजेंसी के अधिकारी निसार खान के साथ-साथ उसके परिवार के सदस्यों से भी पूछताछ कर रहे हैं।

इलाके में ईडी की छापेमारी को देखने के लिए स्थानीय निवासियों का तांता लगा हुआ है। लोग घर के सामने एकत्रित हो गये हैं और तरह-तरह के बातें चल रही हैं। 

Share this story