यूपी में प्रधानमंत्री आज करेंगे अफसरों को संबोधित, पूरे दिन चला था मंथन
vv

यूपी। देश के विभिन्न राज्यों के डीजीपी और आईजीपी के सम्मेलन के दूसरे दिन देश की आंतरिक सुरक्षा समेत विभिन्न मुद्दों पर पूरे दिन मंथन चला। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पूरे समय उपस्थित रहे। उन्होंने सभी सत्रों में हिस्सा लिया। प्रधानमंत्री संबंधित विषयों पर रविवार को अपने विचार रखेंगे।

    
रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सुबह सवा नौ बजे डीजीपी मुख्यालय पहुंचे। वहां केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह व शीर्ष पुलिस अधिकारियों ने उनका स्वागत किया। इसके बाद प्रधानमंत्री सीधे नवें तल पर आयोजित सम्मेलन हाल में पहुंचे। प्रधानमंत्री के पहुंचने के बाद विभिन्न मुद्दों पर एक-एक करके चर्चा-परिचर्चा का दौर शुरू हुआ।


आंतरिक सुरक्षा, साइबर क्राइम की नई चुनौती और उसके समाधान, नारकोटिक्स को लेकर सामने आ रही मौजूदा समय की चुनौतियों पर प्रस्तुतिकरण भी दिया गया। सम्मेलन में वामपंथी उग्रवाद और सीमा प्रबंधन जैसे सुरक्षा संबंधित विषयों पर भी चर्चा की गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सभी सत्रों में मौजूद रहे। वह रविवार को इस सम्मेलन को संबोधित करेंगे। माना जा रहा है कि उन सभी विषयों पर वह अपनी बात रखेंगे जो शनिवार को चर्चा के दौरान अहम मुद्दे के रूप में उभरी हैं। इसे लेकर प्रधानमंत्री कुछ सुझाव भी अधिकारियों को दे सकते हैं। 

प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर डीजीपी कांफ्रेंस में शामिल होने की जानकारी दी। ट्वीट पर लिखा गया है कि लखनऊ में डीजीपी/आईजीपी सम्मेलन में हिस्सा लिया। यह एक महत्वपूर्ण मंच है, जिसमें हम अपने पुलिस ढांचे के आधुनिकीकरण पर व्यापक विचार-विमर्श कर रहे हैं।

डीजीपी कांफ्रेंस में आंतरिक सुरक्षा के साथ-साथ आतंकवाद, साइबर अपराध, तटीय सुरक्षा, नक्सलवाद, मादक पदार्थों की तस्करी के बदलते तरीकों पर मंथन हुआ। साथ ही राज्यों की पुलिस व जांच एजेंसियों के बीच आपसी समन्वय को बढ़ाने की बात दोहराई गई। इसमें देश भर के करीब 350 से अधिक वरिष्ठ अधिकारी विभिन्न राज्यों में स्थित आईबी कार्यालय से वर्चुअल माध्यम से भी जुड़े। यह सम्मेलन साल 2014 से देश के विभिन्न भागों में आयोजित किया जा रहा है। 

 

Share this story