लखनऊ में रियल एस्टेट के नाम पर 59 करोड़ की ठगी रायबरेली से दुबई तक फैला हुआ है नेटवर्क

Total Views : 213
Zoom In Zoom Out Read Later Print

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में रियल एस्टेट कंपनी खोलकर 59 करोड़ की ठगी करने वाले गिरोह का मंगलवार को पर्दाफाश हुआ। पुलिस ने कंपनी से जुड़े नौ लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। छह लोग फरार बताए गए हैं। ठग पांच प्रतिशत मासिक ब्याज की दर से पैसा जमा करवाकर ठगी को अंजाम दिया करते थे। इनका धंधा सुलतानपुर व रायबरेली से लेकर गुजरात के सूरत तक फैला हुआ है तथा दुबई तक नेटवर्क है।

ये है पूरा मामला 


दरअसल, गोसाईगंज के सदरपुर करोरा सकटू का पुरवा गांव के पास का है। यहां के निवासी हरिओम यादव ने गांव के पास अपनी जमीन पर अलास्का रियल स्टेट कंपनी का कार्यालय खोला। पुलिस के अनुसार, हरिओम कंपनी का एमडी बना। कार्यालय में लोगों से पांच प्रतिशत मासिक ब्याज की दर से पैसा जमा करने का ऑफर दिया गया। कुछ महीने तक सब ठीकठाक चलने के बाद लोगों का पैसा वापस करने में आनाकानी होने लगी। पैसा वापस मांगने पर लोगों को धमकी दी जाने लगी तो निलमथा निवासी महेश कुमार यादव ने कंपनी मालिक व डायरेक्टरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। मंगलवार को गोसाईगंज पुलिस ने कंपनी मालिक व एमडी हरिओम यादव निवासी सकटू का पुरवा गोसाईगंज के भाई ओम सिंह यादव, डायरेक्टर सुभाष चंद्र यादव निवासी शेखनापुर, ललित कुमार वर्मा निवासी गंगाखेड़ा हसनापुर, सुरेन्द्र कुमार यादव निवासी बरुआ, गजल सिंह मुंशीगंज, आशीष कुमार वर्मा बस्तौली, नन्द किशोर यादव डीधिया चिरौली शिवरतनगंज अमेठी, अवधेश कुमार मिश्रा पांडेय पुरवा सुबेहा बाराबंकी तथा कौशलेन्द्र यादव निवासी शेखनाघाट को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

See More

Latest Photos